दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने तीन कुख्यात हतियार तस्करों को दिल्ली के संगम विहार से किया गिरफ्तार

@shahzadahmed

दिल्ली एनसीआर में अवैध हथियार तस्करों के खिलाफ दिल्ली पुलिस कि स्पेशल सेल द्वारा लगातार चलाए जा रहे अभियान में ठोस प्रयास किए जा रहे है। स्पेशल सेल ने पूर्व में कई ऐसे अंतरराज्यीय हथियारों के सिंडिकेट का भंडाफोड़ करने में सफलता हासिल की है।

डीसीपी स्पेशल सेल प्रमोद सिंह कुशवाह ने बताया कि

स्पेशल सेल के इंस्पेक्टर ईश्वर सिंह को मेवात और राजस्थान स्थित बंदूक चलाने वालों द्वारा हथियारों की तस्करी गतिविधियों के बारे में जानकारी मिली 1. साबिर, 2. असगर और 3. जाहुल,उनके और उनके सिंडिकेट के बारे में जानकारी विकसित करने के लिए मैनुअल निगरानी रखी गई।इस संबंध में अधिक जानकारी जुटाने के लिए गुप्त स्रोतों को तैनात किया गया था।

मामले को देखते हुए स्पेशल सेल ने एक टीम बनाई जिसमे एसीपी अत्तर सिंह,इंस्पेक्टर ईश्वर सिंह, इंस्पेक्टर आलोक बाजपाई, इस टीम को गठित किया गया।

स्पेशल सेल / एस आर  एस आई रंजीत द्वारा एक विशेष जानकारी प्राप्त हुई कि 25.11.2020 को साबिर केंद्रीय विद्यालय, एम.बी. सड़क संगम विहार, नई दिल्ली 26.11.2020 को 1 बजे से 2 बजे के बीच असगर और जहुल को आग्नेयास्त्रों की आपूर्ति प्रदान करने के लिए जो दिल्ली में अपने संपर्कों को समान आपूर्ति करेंगे।

तदनुसार, उक्त स्थान के पास एक जाल बिछाया गया। साबिर अपने साथ दो बैग लेकर आया था और असगर को एक बैग सौंपते हुए पुलिस ने पकड़ा लिया। जहुल और असगर जो पिस्तौल लेने के लिए वहां आए थे, उन्हें भी पुलिस टीम के सदस्यों ने दबोच लिया।

1.साबिर उम्र 30 वर्ष अलवर,राजस्थान का निवासी है।

2. असगर उम्र 32 वर्ष जिला भरतपुर राजस्थान का निवासी है।

3. जहुल आयु 27 वर्ष जिला नूंह मेवात हरियाणा का निवासी है।

असगर और जाहुल भी उनके साथ दो बैग रख रहे थे।  इन थैलों की जाँच करने पर, आठ सेमी-ऑटोमैटिक पिस्तौल .32 यानी प्रत्येक बैग से चार मौके पर बरामद किए गए। असगर और जहुल द्वारा लिए गए बैग से सात सिंगल शॉट गन्स सेमी नॉक डाउन दो भागों में बरामद किए गए। सभी आरोपी व्यक्तियों पर सशस्त (संशोधन) अधिनियम,के तहत मामला दर्ज कर लिया गया। आगे जी जांच जारी है।

Crimeindelhi.com

#delhipolice #specialcell #goodwork #dilkipolicedelhipolice

Releated Post