दिल की पुलिस- टैगलाइन के अंतर्गत करोल बाग पुलिस ने शेल्टर होम्स में लोगो का दिल जीता

@ravitondak / @shahzadahmed

इस समय पूरा विश्व पूरा देश कोरोना वायरस महामारी से जंग लड़ रहा है

डीसीपी सेंट्रल डिस्ट्रिक्ट संजय भाटिया के विशेष कार्य के रूप में कोविड-19 टीम का गठन किया गया है

ये टीम एसीपी हर सुरिंदर पाल सिंह,करोल बाग़ के एसएचओ मनिंदर सिंह,थाना करोल बाग के देख रेख में काम करेगी।एसआई एस एन ओझा, एसआई मुकेश तोमर, एएसआई लवकेश कुमार, हैड कांस्टेबल ओमप्रकाश, हैड कांस्टेबल दिलशाद, हैड कांस्टेबल कुलदीप, कॉन्स्टेबल सज्जन, कांस्टेबल मोनू, वूमेन कॉन्स्टेबल सुरभि, वूमेन कांस्टेबल ज्योति इस टीम के साथ कार्य करेगे।COVID -19 महामारी स्थिति दिन पर दिन खतरनाक बनती का रही है और लॉकडाउन बढ़ने की स्थिती में , 124 प्रवासी (RPVV) ग्रह में निवास कर रहे हैं जो की लिंक रोड, करोल बाग़ में स्थित है, जो पुलिस स्टेशन करोल बाग के अंतर्गत क्षेत्र में आता है।रामजस स्काउट्स और गाइड्स के समन्वय के साथ, पुलिस स्टेशन करोल बाग की विशेष टीम ने प्रवासियों की चिंता और होमिकनेस पर अंकुश लगाने के साथ-साथ मैत्रीपूर्ण वातावरण प्रदान करने के लिए एक पहल की।

इस दौरान पुलिस स्टेशन करोल बाग की विशेष टीम ने रामजस स्काउट्स एंड गाइड्स के स्वयंसेवकों के साथ मिलकर काउंसलिंग और कुछ कौशल विकास के कार्यक्रम आयोजित किए गए जिससे प्रवासियों को घर और अपनी चिंताओं से कुछ राहत मिलेगी।इन कौशल कार्यक्रमों के अलावा प्रवासियों के बीच कपड़े, चप्पल, बाल्टी और मग, टूथपेस्ट और टूथ ब्रश, मास्क, सैनिटाइजर आदि सभी आवश्यक समान वितरित किए गए हैं।

इन कौशल कार्यक्रमों की साथ ही महिलाओं और बच्चों के लिए कुछ विशेष कार्यक्रम आयोजित किए गए। इन विशेष कार्यक्रम “मेहंदी और महिलाओं के संगीत कार्यक्रम करोल बाग थाने, की महिला पुलिस कर्मियों द्वारा आयोजित किए गए। जिससे न केवल महिला प्रवासियों के तनाव को कम करने में सहायता मिली बल्कि अपने घर से दूर होने पर और अलग अलग चिंताओं से भी थोड़ी राहत मिली, जिससे उन्होंने खुद को अंदर से मजबूत बनाया।इन कार्यक्रमों के दौरान सभी महिला प्रवासियों के बीच सैनिटरी पैड और कुछ कपड़े भी वितरित किए गए। पुलिस स्टेशन करोल बाग की महिला पुलिस कर्मियों ने बच्चों के लिए पेंटिंग, गायन और खेल सहित विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित किए और उन्हें हाथ से बने मास्क भी वितरित किए।

रामजस स्काउट और करोल बाग पुलिस स्टेशन की विशेष टीम के समन्वय के साथ, कोविड -19 के किसी भी तरह के उल्लंघन को रोकने के लिए उपर्युक्त कौशल विकास गतिविधियों को अंजाम दिया गया। लॉकडाउन का समय बढ़ाने के बाद प्रवासी को इकट्ठा करने की आशंका को पूरी तरह से खारिज कर दिया गया है। उपर्युक्त कौशल विकास गतिविधियों की मदद से पुलिस, बच्चो – महिलाओं और वरिष्ठ नागरिकों सहित सभी प्रवासियों की काउंसलिंग कर, घर से दूर और चिंताओं पर अंकुश लगाने के बाद दोस्ताना माहौल रख रही है।

Crimeindelhi.com

Tags #delhipolice #homeshelters #delhopolicehomecentres #covid19

Releated Post