लॉकडाउन के दौरान जी बी रोड में रह रही महिलाओं की स्तिथि को लेकर दिल्ली महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया

शहज़ाद अहमद 

दिल्ली महिला आयोग ने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी कर जीबी रोड में रह रही महिलाओं की स्तिथि की जानकारी मांगी है

मीडिया रिपोर्ट्स के द्वारा आयोग को जानकारी मिली थी कि जीबी रोड में रह रही महिलाओं को लॉक डाउन के कारण कई मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है

जीबी रोड में काम करने वाली महिलाएं भयावह स्तिथि में छोटे छोटे कमरों में रहने को मजबूर हैं जो इस वैश्विक महामारी के दौर में उनके लिए बहुत खतरनाक है। दिल्ली महिला आयोग लंबे समय से जीबी रोड में रह रही महिलाओं की खराब स्तिथि को लेकर आवाज़ उठाता रहा है और अब तक कई महिलाओं को इस रैकेट से रिहा भी करा चुका है। गौरतलब है कि जीबी रोड में करीब 2000 महिलाएं और बच्चे रहते हैं।लॉक डाउन की स्तिथि में सोशल डिस्टेंस का पालन और इन महिलाओं को भोजन और पर्सनल हाइजीन से जुड़ी वस्तुओं की व्यवस्था को लेकर भी इस नोटिस में पुलिस प्रशासन से सवाल किए गए हैं।नोटिस में पूछा गया है कि पुलिस द्वारा लॉकडाउन की स्तिथि में इन महिलाओं को ठीक से खाना मिल पा रहा है। साथ मे यह भी पूछा गया है कि क्या पुलिस द्वारा ये सुनिश्चित करने की दिशा में कोई कदम उठाए गए हैं कि जीबी रोड में सोशल डिस्टेंस का पालन किया जा रहा है।दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कहा, “जीबी रोड में रह रही महिलाएं बहुत ही खराब स्तिथि में रहने पर मजबूर हैं। हम कई वर्षों से प्रयास कर रहे हैं कि इस रैकेट को बंद करवाया जा सके। कोरोना महामारी इस वक्त भयावह रूप ले चुकी है और हमें चिंता है कि जीबी रोड में काम कर रही महिलाएं किस स्थिति में रह रही हैं। ज़रूरी है कि उन्हें सभी ज़रूरत का समान मिल पाए और साथ ही साथ सोशल डिस्टेंस का भी पालन हो। हमने पुलिस को नोटिस जारी किया है और उनसे पूछा है कि इस स्तिथि में वो क्या क्या कदम उठा रहे हैं जिससे इन महिलाओं और बच्चों को मुश्किलों का सामना न करना पड़े।

Crimeindelhi.com

Tags #delhicommissionwomen
#gbroad #delhipolice

Releated Post